Breaking News
Home / Political / मेहुल चौकसी को लेकर एंटीगुआ से आई भारत के लिए अच्छी खबर !

मेहुल चौकसी को लेकर एंटीगुआ से आई भारत के लिए अच्छी खबर !

पीएनबी बैंक धोखाधड़ी मामले में भारत से भागे हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी को लेकर एंटीगुआ सरकार का बड़ा बयान सामने आया है. मेहुल चौकसे के एंटीगुआ में होने की खबर के बाद से ही भारत उसके प्रत्यर्पण की कोशिश में है. आपको बता दें कि पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी मेहुल चौकसी के एंटीगुआ की नागरिकता ले लिए जाने की खबर के बाद से ही मोदी सरकार सक्रिय हो गई थी और एंटीगुआ सरकार से मांग की थी कि मेहुल चौकसी को गिरफ्तार कर भारत को सौंपने की प्रक्रिया शुरु करे. अब एंटीगुआ सरकार का यह कदम भारत के लिए अच्छी खबर लेकर आया है. आइए बताते हैं पूरा मामला.

पीएनबी धोखाधड़ी मामले का मुख्य आरोपी मेहुल चौकसी: (Image Source-indiatoday)

एंटीगुआ सरकार ने कहा पूरी मदद करेंगे

बैंक धोखाधड़ी मामले में भारत से भागे हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को लेकर मोदी सरकार की कोशिशें रंग लाई हैं. एटीगुआ सरकार ने इस मामले में बड़ा बयान दिया है. एंटी गुआ सरकार ने कहा है कि मेहुल चौकसी के प्रत्यर्पण में वह पूरा सहयोग देगा. एंटीगुआ सरकार का कहना है कि प्रत्यर्पण कानून का पूरी तरह से पालन किया जायेगा.

इसी कड़ी में एंटीगुआ और बरमुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन अल्फोंसो ब्राउन के साथ भारतीय उच्चायुक्त की बैठक हुई है.  इस बैठक में भारतीय उच्चायुक्त एचई वेंकटचलम महालिंगम ने आधिकारिक तौर पर दूसरी बार मेहुल चौकसी के प्रत्यर्पण के लिए आवेदन किया है.

पीएनबी धोखाधड़ी मामले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी: (Image Source-Oneindia)

 

एंटीगुआ के अटार्नी जनरल ने भरोसा दिलाया है कि पीएम मोदी के नेतृत्व वाली भारत सरकार के अनुरोध पर हमारी सरकार उचित कार्रवाई करेगी. बैठक में भारतीय उच्चायुक्त और प्रधानमंत्री के बीच चौकसी के अपराध को लेकर विस्तृत चर्चा हुई है. भारतीय एजेंसियों की ओर से बताया गया है कि मेहुल चौकसी को गिरफ्तार या प्रत्यर्पण करने के लिए किसी भी तरह के रेड कॉर्नर नोटिस की जरुरत नही है. ऐसे में प्रत्यर्पण की प्रक्रिया शुरु कर दिया जाना चाहिए.

कौन है मेहुल चौकसी

पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में हीरा व्यापारी मेहुल चौकसी का नाम उछला था. मेहुल चौकसी और नीरव मोदी पर आरोप है कि गीतान्जली जेम्स के द्वारा उन्होंने पीएनबी पर 11400 करोड़ रुपये का चूना लगाया. दरअसल मेहुल चौकसी ने पीएनबी से कर्ज तो लिए लेकिन चुकाने में असमर्थ रहे. जब पीएनबी ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई तो यह देश से भाग खड़े हुए.

मेहुल चोकसी गीतान्जली जेम्स के द्वारा पीएनबी बैंक को 11400 रुपये का चुना लगाया: (Image Source-India today)

आपसे एक सीधा सवाल

एंटीगुआ सरकार की कार्रवाई से आपको मेहुल चौकसी के लौटने की कितनी उम्मीद है?

News Source-Aajtak