Breaking News
Home / News / बड़ी खबर: नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को लेकर अमित शाह का बड़ा बयान !

बड़ी खबर: नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को लेकर अमित शाह का बड़ा बयान !

‘हम कांग्रेस की तरह सिर्फ खोखले दावे नहीं करते. हम नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को हर हाल में देश में वापस लाकर रहेंगे’. ये बयान है बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का. उनके इस कड़े बयान से हम ये समझ सकते हैं कि, केंद्र की मोदी सरकार ऐसे लोगों के प्रति थोड़ी भी नरमी दिखाने के मूड में नहीं है, जिसने देश से गद्दारी की है. विपक्ष चाहे लाख सत्ता पक्ष को इस मामले को लेकर घेरने की कोशिश करे, लेकिन पीएम मोदी और अमित शाह किसी भी हाल में नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को बख्शने वाले नहीं हैं.

image source: India Today

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि, ‘नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को वापस स्वदेश लाने के लिए एक प्रक्रिया है. इस प्रक्रिया के तहत कार्रवाई की जा रही है और जल्द ही दोनों को वापस लाया जाएगा’. उन्होंने कांग्रेस पर भी तंज कसते हुए कहा है कि, ‘कांग्रेस की तरह हम खोखले दावे करने में विश्वास नहीं रखते हैं. हम नीरव और मेहुल को वापस लाने में किसी तरह का कोई कसर नहीं छोड़ने वाले हैं’.

यूपीए को लिया आड़े हाथों

image source: Financial Express

जब देश में यूपीए की सरकार थी तो देश में तमाम तरह के घोटाले और भ्रष्टाचार हुए थे, और इस वजह से ही देश की जनता ने कांग्रेस की सरकार को देश की सत्ता से दूर कर दिया था. अब कांग्रेस की हालत ऐसी है कि, वो किसी भी चुनाव में अकेले के दम पर चुनाव लड़ने में सक्षम नहीं है. यूपीए सरकार के दौरान ही नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ने लोन लिया था. इसी बात को हथियार बनाते हुए अमित शाह ने कहा कि, ‘मामा-भांजे की जोड़ी को लोन यूपीए सरकार के दौरान ही मुहैया कराए गए थे’.

फरार है नीरव मोदी और मेहुल चौकसी

जानकारी के लिए बता दें, नीरव मोदी मुंबई का एक हीरा कारोबारी है और मेहुल चौकसी जो निरव मोदी का भांजा है, उन दोनों ने मिलकर मुंबई स्थित पंजाब नेशनल बैंक के ब्रांच ब्रेडी हाउस के कुछ कर्मचारियों के साथ मिलकर, बैंक से कई हजार करोड़ रुपए का लोन लिया था. बैंक के ही कुछ कर्मचारियों की मदद से नीरव और मेहुल ने फर्जी गारंटी सर्टिफिकेट बनवाए थे और उसकी मदद से बैंक से 13 हजार करोड़ रुपए का लोन लेकर देश से फरार हो गए. फिलहाल केंद्र की मोदी सरकार लगातार दोनों को स्वदेश वापस लाने के लिए प्रयास कर रही है.

NEWS SOURCE: Patrika