Breaking News
Home / Uncategorized / शहीद मेजर की अंतिम विदाई का ये वीडियो देखने के बाद हर किसी की आँखें नम होना तय है !

शहीद मेजर की अंतिम विदाई का ये वीडियो देखने के बाद हर किसी की आँखें नम होना तय है !

मुझे तोड़ लेना वनमाली
उस पथ पर देना तुम फेंक, मातृभूमि पर शीश चढ़ाने जिस पर जावें वीर अनेक

 

माखनलाल चतुर्वेदी द्वारा लिखी गयी कविता “पुष्प की अभिलाषा” की ये पंक्तियाँ आज भी हर एक सच्चे हिंदुस्तानी को बेहद ही गर्व महसूस कराती हैं. अब आप सोच रहे होंगे हम आपको ये सब क्यों बता रहे हैं ? दरअसल, कविता की ये पंक्तियाँ हाल ही में सच होती नज़र आयी हैं.  बीते गुरुवार यानी 9 अगस्त को मेजर  कौस्तुभ प्रकाश राणे कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास बांदीपुर जिले में हुई एक मुठभेड़ में शहीद हो गए थे.  उन्होंने घुसपैठ कर रहे दो आतंकियों को मार गिराया और इस घुसपैठ को नाकाम किया.

शहीद ‘मेजर कौस्तुभ और उनकी पत्नी !! इन तस्वीरों को देखने के बाद यकीनन आपकी भी आँखें भर आयी होंगी ! ( image source : jansatta )

 

जब मुंबई पहुंचा शहीद मेजर कौस्तुभ प्रकाश राणे का पार्थिव शरीर ! 

मातृभूमि की रक्षा करते हुए शहीद हुए मेजर कौस्तुभ प्रकाश राणे का पार्थिव शरीर तिरंगे में लिपटा हुआ जब मुम्बई के ठाणे पहुंचा तो वहां का महौल देखने के बाद हर कीसी की आँखें नम होना तय था. ज्ञात हो मेजर के पार्थिव शरीर को शिक्षा मंत्री विनोद तावडे ने प्राप्त किया था. इसके बाद पूरी शान से मेजर के पार्थिव शरीर को फूलों से भरे सेना के एक ट्रक में रखा गया. लोगों में मेजर की अंतिम यात्रा के राह में फूल बिछा दिए थे और ऊपर से भी उनपर फूल बरसाए जा रहे थे. पूरा  रास्ता  ऐसा लग रहा था जैसे किसी पीले रंग की चद्दर बिछा दी गयी हो  ….वाकई, इस नज़ारे को देखकर हर भारतीय का दिल भर आया था. देखिये मेजर कौस्तुभ प्रकाश की अंतिम यात्रा का वीडियो !!

“भारत माता की जय” के नारों  से गूँज उठा मुम्बई  ! 

जिस वक़्त मेजर की अंतिम यात्रा निकल रही रस्ते में खड़ा हर एक शख्स आँखों में आंसू लिए भारत माता  की जय के नारे लगा रहा था. इतना ही नहीं ‘मेजर कौस्तुभ राणे, अमर रहे’, ‘वंदेमातरम्’  के भी नारे लगाए गए.

अंतिम विदाई पर ‘भारत माता की जय’, ‘मेजर कौस्तुभ राणे, अमर रहे’, ‘वंदेमातरम्’ जैसे नारों की गूंज सुनाई दी ( image source : timesnow )

 

बहनों ने बाँधी मेजर के पार्थिव शरीर को राखी ! 

रक्षाबंधन के पास होने के कारण मेजर की बहनों ने उनकी चिता को राखी बाँधी और शहीद भाई को आखिरी सलाम दिय.. इस बीच उनकी  पत्नी और परिवार के सभी सद्स्य भावुक हो गये थे जिनको लोगों ने  संभाला.

मेजर कौस्तुभ का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया ( image source :jansatta )

हम अपनी और से शहीद मेजर कौस्तुभ को भावनात्मक श्रद्धांजलि देते हैं और उम्मीद करते हैं उनकी शहादत का बदला जल्द ही भारतीय आर्मी लेगी !  आज एक बार फिर मेजर की अंतिम विदाई का ये दृश्य के बाद यकीन हो गया है कि भारत का आतंकवादी या देशद्रोही  कुछ नहीं बिगाड़ सकते हैं.

जय हिन्द, जय भारत !!

news source : जनसत्ता