Breaking News
Home / News / राज्यसभा उपसभापति चुनाव के बाद पता चला आखिर इस वजह से हर कोई राहुल गांधी से दूर रहना चाहता है

राज्यसभा उपसभापति चुनाव के बाद पता चला आखिर इस वजह से हर कोई राहुल गांधी से दूर रहना चाहता है

साल 2014 के बाद से हर चुनाव की तरह राज्यसभा उपसभापति चुनाव को भी बीजेपी ने जीतकर एक बार फिर से साबित कर दिया कि, पीएम मोदी को टक्कर देना आसान नहीं है. चाहे महागठबंधन भी क्यों ना कर लो लेकिन, फिर भी बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के दिमाग के आगे किसी और की नहीं चल सकती है. एक तो पीएम मोदी का जादू और लोगों द्वारा उनको दिए जा रहे भरपूर समर्थन और ऊपर से बीजेपी के ‘चाणक्य’ अमित शाह द्वारा तैयार किए गए चक्रव्यूह के सामने किसी भी विपक्षी पार्टी में इतना दम नहीं कि वो किसी चुनाव में बीजेपी को मात दे सके.

बीजेपी की इस चाल से सकपकाई कांग्रेस

राज्यसभा उपसभापति हरिवंश नरायण सिंह सिंह(बीच में) image source: Aaj Tak

बीजेपी सिर्फ अपने बारे में नहीं सोचती है बल्कि एनडीए में शामिल हर छोटी पार्टी का भी ख्याल रखती है. इसका एक बड़ा उदाहरण देखने को मिला कि राज्यसभा उपसभापति चुनाव में खुद के किसी सांसद को चुनाव में उम्मीदवार नहीं बनाकर नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के सांसद हरिवंश नरायण सिंह को उम्मीदवार बनाया और आखिर में अमित शाह द्वारा तैयार किए गए प्लान की वजह से हरिवंश नरायण सिंह की जीत हुई और उनको 125 वोट पड़े. ऐसा करके बीजेपी ने अपने सहयोगियों के साथ अच्छे रिश्ते बनाने की कोशिश की है. जहां एनडीए पूरी तरह से एकजुट दिख रही है तो वहीं कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टी बिखरी हुई नजर आ रही है.

उम्मीदवार तय करने में कांग्रेस का था बुरा हाल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी(image source: financial express)

विपक्ष की तरफ से कांग्रेस के सांसद बीके हरिप्रसाद को उम्मीदवार बनाया गया था जिनको 101 वोटों से ही संतोष करना पड़ा. बीके हरिप्रसाद से पहले विपक्ष की तरफ से एनसीपी सांसद वंदना चोव्हाण को उम्मीदवार बनाए जाने की बात सामने आ रही थी लेकिन, चुनाव में हार के डर की वजह से एनसीपी ने अपने उम्मीदवार को चुनाव से दूर कर लिया. इसके बाद कांग्रेस ने तेलगु देशम पार्टी और तृणमूल कांग्रेस से संपर्क साधा कि, वो अपने किसी सांसद को उम्मीदवार बनाए लेकिन, दोनों ही पार्टियों ने इस प्रस्ताव पर किसी तरह की कोई रूची नहीं दिखाई.

संबित पात्रा ने बताया कि आखिर सब कांग्रेस से दूर क्यों भाग रहे हैं

इन सब घटनाक्रम को देखते हुए बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने आज तक चैनल के डिबेट शो में भाग लेेते हुए बताया कि, आखिर क्यों तमाम पार्टियां कांग्रेस और राहुल गांधी से दूरी बना रही है. संबित पात्रा ने कहा कि, ‘साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी बहुत ही ज्यादा मजबूत स्थित में है. 2014 के बाद से पीएम मोदी के नेतृत्व में लड़ा गया हर चुनाव में पार्टी की जीत हुई है. लेकिन, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने दम पर किसी भी चुनाव में जीत हासिल नहीं की है’.

बीजेपी प्रवक्ता संबीत पात्रा(image source: India Tv)

संबीत पात्रा ने आगे कहा कि, ‘जैसे हर चुनाव में कांग्रेस को मुंह की खानी पड़ रही है और जो हश्र कांग्रेस पार्टी का हो रहा है, उसे देखते हुए कोई पार्टी कांग्रेस के साथ नहीं जाना चाहती है. क्योंकि उनको पता है कि, अगर कांग्रेस के साथ रहे तो उनका भी वही हश्र होगा और इस बात का नमूना देखने को मिला राज्यसभा उपसभापति के चुनाव में’.

देखें वीडियो:-