Breaking News
Home / News / इमरान खान जीते पाकिस्तान में, लेकिन फजीहत हो रही है केजरीवाल की, जानिए क्यों!

इमरान खान जीते पाकिस्तान में, लेकिन फजीहत हो रही है केजरीवाल की, जानिए क्यों!

हाल ही में पाकिस्तान में आम चुनाव संपन्न हुए हैं और वोटों की गिनती भी हो गई है. 26 जुलाई को जो परिणाम सामने आए हैं उसने सबको आश्चर्यचकित कर दिया है. पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर इमरान खान जिन्होंने आज से 22 साल पहले राजनीति में कदम रखा था उनकी पार्टी तहरीक ए इंसाफ ने पाकिस्तान चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. पाकिस्तान के अगले प्रधानमत्री बनने वाले हैं इमरान खान. इमरान ने ये ऐलान किया है कि जब वो प्रधानमंत्री बन जाएंगे तो वो सरकारी बंगले में नहीं रहेंगे, जिससे उनके देश में भी भारत की तरह वीआईपी कल्चर खत्म हो.

image source: i.pinimage

इस नेता की वजह से भारत में भी हो रही है इमरान के ऐलान की चर्चा

जब से इमरान ने इस बात का ऐलान किया है कि वो सरकारी बंगले में नहीं रहेंग, तो इस बात की चर्चा भारत में खूब हो रही है. अब तो आपको अंदाजा हो ही गया होगा कि आखिर क्यों इमरान खान की इस बात के बारे में लोग भारत में बात कर रहे हैं. जी हां, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले भी कई तरह के ऐलान किए थे. केजरीवाल ने कहा था कि, जब वो दिल्ली के मुख्यमंत्री बन जाएंगे तो वो सरकारी बंगला, सरकारी कार, सिक्योरिटी गार्ड किसी भी तरह का कोई सरकारी फायदा नहीं लेंगे.

image source: catch news

केजरीवाल के नेता ने ही उनपर कसा तंज

लेकिन, हुआ ठीक इसके विपरीत. केजरीवाल मुख्यमंत्री बनते ही सरकारी आवास में शिफ्ट हो गए और इस वजह से वो हंसी के पात्र भी बन गए. इमरान खान की बात का मजाक बनाते हुए कवि कुमार विश्वास ने अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा है. आप नेता कुमार विश्वास जिनके रिस्ते केजरीवाल से आज कल कुछ ठीक नहीं चल रहे, उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘पाकिस्तान चुनाव जीतने के बाद इमरान खान कह रहे हैं- मैं सरकारी बंगला नहीं लूंगा जी’.

image source: firstpost

कुमार विश्वास के इस ट्वीट को लोग खूब पसंद कर रहे हैं और लगातार सोशल मीडिया पर उनकी ट्वीट ट्रेंड भी हो रही है. दरअसल, लोग कुमार विश्वास के ट्वीट के माध्यम से अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी आम आदमी पार्टी पर तंज कस रहे हैं. लोगों का कहना है कि चुनाव से पहले केजरीवाल ने बहुत सारे ऐलान किए थे लेकिन, चुनाव जीतने के तुरंत बाद ही केजरीवाल ने दिल्ली के तत्कालिन एलजी नजीब जंग को पत्र लिखकर सरकारी बंगले की मांग की थी.

इमरान का ऐलान

वहीं अगर हम पाकिस्तान पर ध्यान दें तो वहां के अगले प्रधानमंत्री बनने वाले इमरान खान ने भी केजरीवाल की तरह ऐलान किया है. इमरान ने कहा कि, हमारी सरकार ने ये फैसला किया है कि हम प्रधानमंत्री आवास नहीं लेंगे क्योंकि हमें इसकी जरुरत नहीं है. इस राजसी घर में अगर मैं रहूंगा तो मुझे शर्म महसूस होगी और इस वजह से इसे एजुक्येशनल इंस्टिट्यूट या फिर जन कल्याण के लिए किसी संस्था के रूप में तब्दिल कर दिया जाएगा.
NEWS SOURCE: Jansatta